Shaheed Kosh

इनके व्यक्तित्व के बारे में कोई भी तथ्य छूट गया हो या कोई तथ्य त्रुटिपूर्ण तो कृपया ज़रूर बतायें

श्री नन्दलाल गोर्वा श्री रघुनाथजी के पुत्र थे| प्रजामण्डल के प्रारंभिक दिनों में इन्होनें बहुत उत्साह से कार्य किया था| सन 1938 में प्रजामण्डल के सत्याग्रह में राजसमंद कोर्ट से इन्हें 3 महीने की सज़ा दी गई थी| वे स्वाधीनता के पहले मंदिर की सेवा और देव-पूजा का कार्य करते थे|

General Administration Department
Goverment of NCT of Delhi