Shaheed Kosh

इनके व्यक्तित्व के बारे में कोई भी तथ्य छूट गया हो या कोई तथ्य त्रुटिपूर्ण तो कृपया ज़रूर बतायें

श्री नन्दलाल बागोरा पालीवाल ब्राह्मण थे| उनके पिता श्री खेमराज जी पालीवाल थे| मेवाड़ प्रजामण्डल की स्थापना से ही श्री नन्दलाल उसमे उत्साह से कार्य करने लगे थे| 1938 के आंदोलन में उन्हें 6 माह की सज़ा उदयपुर कोर्ट से मिली| प्रजामण्डल के द्वारा उन्होंने वर्षों तक राष्ट्रीय सेवा की| स्वाधीनता के बाद एकलिंग महादेव की पूजा करते और भेंट सामग्री से अपना जीवन निर्वाह करते थे|

General Administration Department
Goverment of NCT of Delhi